tubelight film review-promo ट्यूबलाइट बिखेरेगी सिनेमा स्क्रीन पर फुल लाइट - Hindi Haat

Header Ads

tubelight film review-promo ट्यूबलाइट बिखेरेगी सिनेमा स्क्रीन पर फुल लाइट


Tubelight बिखेरेगी सिनेमा स्क्रीन पर फुल लाइट
- विवेक जादोन 


     सलमान खान की फिल्म ट्यूबलाइट 23 जून को वर्ल्डवाइड रिलीज होने जा रही है।  ये कहानी है एक इंसान के खुद पर विश्वास की और अपने परिवार के लिए उसके प्यार की।  यह फिल्म मैक्सिको के फिल्मकार एलेजांद्रो गोमेज मोंटेवेर्दे की वर्ष 2015 में आई फिल्म लिटिल ब्वॉय की रीमेक बताई जा रही है।

ट्यूबलाइट की कहानी   Story of Tubelight

फिल्म के प्रोमो को देखकर जाहिर होता है कि फिल्म भारत-चीन युद्ध की पृष्ठभूमि में रची गई है, जबकि मूल कहानी में लड़का अमेरिका का था और दुश्मन देश जापान था।  सलमान भोंदू किस्म के एक कुमाऊंनी लड़के का किरदार निभा रहे हैं, जिसका नाम तो है लक्ष्मण सिंह बिष्ट लेकिन लोग उसे ट्यूबलाइट कह कर बुलाते हैं। युद्ध की इस घड़ी में लक्ष्मण सिंह बिष्ट यानी ट्यूबलाइट देश के लिए कुछ कर गुजरने के जज्बे के साथ भारतीय सेना की कुमाऊं रेजीमेंट में भर्ती होना चाहता है, लेकिन कामयाब नहीं हो पाता। हां, उसका भाई भरत सिंह बिष्ट यानी सोहैल खान जरूर भर्ती होकर मोर्चे पर चला जाता है। युद्ध में भरत के चीनी फौज के हाथ लग जाने की खबर सुनकर लक्ष्मण बेचैन हो उठता है। बुजुर्ग की भूमिका में नजर आ रहे दिवंगत ओम पुरी जब उसे खुद में यकीन दिलाते हैं तो वह कुमाऊं में अपने कस्बे जगतपुर (काल्पनिक) से रानीखेत जाने वाली बस पर सवार हो जाता है। अपने भाई को चीनी सेना के चंगुल से छुड़ाने की ललक में वह दोनों देशों की जंग को रोकने और अमन बहाली की कोशिश में लग जता है। इस पूरी कवायद में वह अपने भोलेपन से दुश्मन देश के लोगों को मानवता का पाठ पढ़ाता है। प्रोमो को देखकर साफ जाहिर होता है कि युद्ध फिल्म की कहानी की पृष्ठभूमि भर है, मानवीय संवेदनाएं, प्यार और भावनाएं ही इस फिल्म का मूल तत्व हैं। फिल्म की कहानी डॉक्यू-ड्रामा की तरह आगे बढ़ती दिखाई दे रही है। 

ट्यूबलाइट के गाने Tubelight songs

फिल्म के दो गीत सजन रेडियो बजइयो जरा और नाच मेरी जान होके मगन तू के बोल जुबान पर चढ़ने वाले हैं। तीसरा गाना में दोनों भाई फिल्म् का तीसरा गाना तिनका-तिनका दिल मेरा... राहत अली खान की आवाज में है, जिसमें सलमान अपने भाई को फौज में जाते देख काफी भावुक नजर आ रहे हैं और ओम पुरी उन्हें ढांढस बंधा रहे हैं। फिल्म के डायलॉग्स भी काफी असरदार है, खासकर यह डायलॉग- यकीन एक ट्यूबलाइट की तरह होता है, देर से जलता है, लेकिन जब जलता है तो फुल लाइट कर देता है। कुल मिलाकर यह फिल्म एक साधारण से युवक के खुद पर यकीन और उसके हौसले की कहानी है।

शाहरुख और सलमान 23 साल बाद एक साथ

फिल्म के जॉनर की बात करें तो इसे हिस्टोरिक वार और रोमांटिक ड्रामा की मिली जुली कैटेगरी में रखा जा सकता है, लेकिन सही मायने में यह सलमान- जॉनर की फिल्म हैं क्योंकि आज वह खुद एक बहुत बड़े ब्राण्ड है, उनकी फिल्मों का एक अलग बाजार है और उनके चाहने वालों का एक बहुत बड़ा दर्शक वर्ग भी है। जहां तक निर्देशक कबीर खान और सलमान खान की जोड़ी की बात है तो दोनों की यह तीसरी फिल्म है। इससे पहले एक था टाइगर और बजरंगी भाईजान में यह जोड़ी अपना रंग दिखा चुकी है। बॉलीवुड के किंग शाहरुख खान और सलमान खान भी 23 साल बाद एक बार फिर फिल्मी परदे पर एक साथ दिखाई देगी। इससे पहले दोनों 1995 में आई फिल्म करण अर्जुन में साथ दिखे थे।

Tublight Star Cast

चीनी अभिनेत्री झू झू ट्यूबलाइट का इंटरनेशनल हाइलाइट हैं । उन्होंने एमटीवी चाइना से होस्ट के रूप में काम शुरू किया और एक-दो चीनी फिल्मों में काम किया है। भारतीय फिल्मों में अमेरिकन, यूरोपियन, पाकिस्तानी, श्रीलंकाई एवं अन्य कई देशो की अभिनेत्रियां पहले नजर आ चुकी हैं, लेकिन यह शायद पहली बार है कि कोई चीनी अभिनेत्री बॉलीवुड फिल्मों में दस्तक दे रही है। दूसरे महत्वपूर्ण किरदार हैं सोहैल खान, जो ट्रेलर में एक फौजी की भूमिका में दिखाई दे रहे हैं। बेहतरीन अभिनेता रहे ओम पुरी के जीवन की संभवतः यह अंतिम फिल्म है।

Tubelight Release Date  

सलमान खान की अपनी अलग फैन फॉलोइंग है और 26 जून को ईद से ठीक पहले यह फिल्म रिलीज होने जा रही है। फिल्म के प्रोमो को देखकर ये कहा जा सकता है कि ये फिल्म भी सलमान खान की पिछली फिल्मों की तरह ब्लॉकबस्टर साबित होगी। 

Watch tube light movie trailer: 



Related post:

Teaser Review of Baadshaho in Hindi

Haseena Parkar teaser review in Hindi

1 comment:

Theme images by cobalt. Powered by Blogger.